2 कुरिन्थियों - मिट्टी के बरतनों

पौलुस परमेश्वर के आगामी अनुग्रह के साथ अपने संघर्ष और कमजोरी को साझा करता है।

मिट्टी के बरतनों

2 कुरिन्थियों 4:7 परन्तु हमारे पास यह धन मिट्ठी के बरतनों में रखा है, कि यह असीम सामर्थ हमारी ओर से नहीं, वरन परमेश्वर ही की ओर से ठहरे।

सारांश

  • परिचय

  • दूत का बुरा बोलना

  • शक्तिशाली संदेश

  • मंत्रालय आदर्श

  • चर्चा

परिचय

शायद कुरिन्थियन चर्च के लिए आखिरी (चार) पत्र पौलुस ने लिखा था 1 कुरिन्थियों को दूसरा प्रतीत होता है पिछला पत्र बहुत गंभीर था और गंभीर प्रतिशोध था 1 वह विनम्र जवाब देते हैं 1 इतिहास में कुरिन्थियन चर्च ने आदर्श चर्च की तरह 50 साल बाद जीवन जीना है 1 जिसके बाद वे उसी जाल में आते हैं जिन्हें वे चेतावनी दी जा रही हैं। [1] [2] [3]

दूत का बुरा बोलना

कुरिन्थियों के आत्म-प्रशंसित नेताओं की कुछ स्वयं की मांग ने  पौलुस की प्रेसीडियरी पर सवाल उठाया

दूत का बुरा बोलना

उन्होंने उसके खिलाफ झूठे आरोप लगाए:

  • प्रेरित नहीं – 2 कुरिन्थियों 11: 5

  • इसे ऊपर चढ़ाना – 2 कुरिन्थियों 1:24

  • ईमानदारी की कमी (जैसा उसने आने का वादा किया लेकिन नहीं) – कुरिन्थियों 1:15

  • प्रभावशाली नहीं और भाषण तुच्छ – 2 कुरिन्थियों 10:10

  • निम्न स्तर के व्यापार – प्रेरितों के काम 8:1-5, 2; थिस्सलुनीकियों 3:8;

  • ढकना सुसमाचार – 2 कुरिन्थियों 4:3

पौलुस का जवाब

2 कुरिन्थियों 10:12 क्योंकि हमें यह हियाव नहीं कि हम अपने आप को उन में से ऐसे कितनों के साथ गिनें, या उन से अपने को मिलाएं, जो अपनी प्रशंसा करते हैं, और अपने आप को आपस में नाप तौलकर एक दूसरे से मिलान करके मूर्ख ठहरते हैं। ….

17 परन्तु जो घमण्ड करे, वह प्रभु पर घमण्ड करें।

शक्तिशाली संदेश - गहराई

पौलुस: “जब मैं निर्बल होता हूं, तभी बलवन्त होता हूं” 2 कुरिन्थियों 12:10

शक्तिशाली संदेश - गहराई

पौलुस अपने दुख की गहराई का वर्णन करता है।

2 कुरिन्थियों 11:23 (मैं पागल की नाईं कहता हूं) मैं उन से बढ़कर हूं! अधिक परिश्रम करने में; बार बार कैद होने में; कोड़े खाने में; बार बार मृत्यु के जोखिमों में। 24 पांच बार मैं ने यहूदियों के हाथ से उन्तालीस उन्तालीस कोड़े खाए। 25 तीन बार मैं ने बेंतें खाई; एक बार पत्थरवाह किया गया; तीन बार जहाज जिन पर मैं चढ़ा था, टूट गए; एक रात दिन मैं ने समुद्र में काटा।

शक्तिशाली संदेश - गहराई

2 कुरिन्थियों 12:7 और इसलिये कि मैं प्रकाशों की बहुतायत से फूल न जाऊं, मेरे शरीर में एक कांटा चुभाया गया अर्थात शैतान का एक दूत कि मुझे घूँसे मारे ताकि मैं फूल न जाऊं।

8 इस के विषय में मैं ने प्रभु से तीन बार बिनती की, कि मुझ से यह दूर हो जाए। 9 और उस ने मुझ से कहा, मेरा अनुग्रह तेरे लिये बहुत है; क्योंकि मेरी सामर्थ निर्बलता में सिद्ध होती है; इसलिये मैं बड़े आनन्द से अपनी निर्बलताओं पर घमण्ड करूंगा, कि मसीह की सामर्थ मुझ पर छाया करती रहे।

शक्तिशाली संदेश -ऊंचाई

2 कुरिन्थियों 12:1 यद्यपि घमण्ड करना तो मेरे लिये ठीक नहीं तौभी करना पड़ता है; सो मैं प्रभु के दिए हुए दर्शनों और प्रकाशों की चर्चा करूंगा। 2 मैं मसीह में एक मनुष्य को जानता हूं, चौदह वर्ष हुए कि न जाने देह सहित, न जाने देह रहित, परमेश्वर जानता है, ऐसा मनुष्य तीसरे स्वर्ग तक उठा लिया गया। 3 मैं ऐसे मनुष्य को जानता हूं न जाने देह सहित, न जाने देह रहित परमेश्वर ही जानता है। 4 कि स्वर्ग लोक पर उठा लिया गया, और एसी बातें सुनीं जो कहने की नहीं; और जिन का मुंह पर लाना मनुष्य को उचित नहीं।

शक्तिशाली संदेश -परिवर्तन

पौलुस ने कहा – मूसा को घूंघट की जरूरत थी, लेकिन यह हमारे लिए आवश्यक नहीं है।

2 कुरिन्थियों 3:18 परन्तु जब हम सब के उघाड़े चेहरे से प्रभु का प्रताप इस प्रकार प्रगट होता है, जिस प्रकार दर्पण में, तो प्रभु के द्वारा जो आत्मा है, हम उसी तेजस्वी रूप में अंश अंश कर के बदलते जाते हैं॥

शक्तिशाली संदेश - परिवर्तन

हम मसीह के माध्यम से परिवर्तन हो सकते हैं । 

2 कुरिन्थियों 4:7 परन्तु हमारे पास यह धन मिट्ठी के बरतनों में रखा है, कि यह असीम सामर्थ हमारी ओर से नहीं, वरन परमेश्वर ही की ओर से ठहरे। 8 हम चारों ओर से क्लेश तो भोगते हैं, पर संकट में नहीं पड़ते; निरूपाय तो हैं, पर निराश नहीं होते।

9 सताए तो जाते हैं; पर त्यागे नहीं जाते; गिराए तो जाते हैं, पर नाश नहीं होते। 12 सो मृत्यु तो हम पर प्रभाव डालती है और जीवन तुम पर। 

मंत्रालय आदर्श

उनके व्यक्तिगत उदाहरण ने उनके मंत्रालय को सफल बनाया

मंत्रालय आदर्श - योजना

हम योजना करते हैं, परमेश्वर निर्देशन करते हैं;

2 कुरिन्थियों 2:12 और जब मैं मसीह का सुसमाचार, सुनाने को त्रोआस में आया, और प्रभु ने मेरे लिये एक द्वार खोल दिया। 13 तो मेरे मन में चैन न मिला, इसलिये कि मैं ने अपने भाई तितुस को नहीं पाया; सो उन से विदा होकर मैं मकिदुनिया को चला गया।

मंत्रालय आदर्श –योजना:प्राथमिकताएं

प्रेरितों के काम18:3 और उसका और उन का एक ही उद्यम था; इसलिये वह उन के साथ रहा, और वे काम करने लगे, और उन का उद्यम तम्बू बनाने का था। 4 और वह हर एक सब्त के दिन आराधनालय में वाद-विवाद करके यहूदियों और यूनानियों को भी समझाता था॥ 5 जब सीलास और तीमुथियुस मकिदुनिया से आए, तो पौलुस वचन सुनाने की धुन में लगकर यहूदियों को गवाही देता था कि यीशु ही मसीह है।

मंत्रालय आदर्श – प्रचार, व्यक्तिगत उदाहरण

2 कुरिन्थियों 2:15 क्योंकि हम परमेश्वर के निकट उद्धार पाने वालों, और नाश होने वालों, दोनो के लिये मसीह के सुगन्ध हैं।

16 कितनो के लिये तो मरने के निमित्त मृन्यु की गन्ध, और कितनो के लिये जीवन के निमित्त जीवन की सुगन्ध, और इन बातों के योग्य कौन है? 17 क्योंकि हम उन बहुतों के समान नहीं, जो परमेश्वर के वचन में मिलावट करते हैं; परन्तु मन की सच्चाई से, और परमेश्वर की ओर से परमेश्वर को उपस्थित जानकर मसीह में बोलते हैं॥

मंत्रालय आदर्श- भागीदारी

पौलुस अपने मंत्रालय के भागीदार के बारे में बहुत विशिष्ट था

2 कुरिन्थियों 6:14 अविश्वासियों के साथ असमान जूए में न जुतो, क्योंकि धामिर्कता और अधर्म का क्या मेल जोल? या ज्योति और अन्धकार की क्या संगति? 
15 और मसीह का बलियाल के साथ क्या लगाव? या विश्वासी के साथ अविश्वासी का क्या नाता? 
16 और मूरतों के साथ परमेश्वर के मन्दिर का क्या सम्बन्ध? क्योंकि हम तो जीवते परमेश्वर का मन्दिर हैं; जैसा परमेश्वर ने कहा है कि मैं उन में बसूंगा और उन में चला फिरा करूंगा; और मैं उन का परमेश्वर हूंगा, और वे मेरे लोग होंगे। 

मंत्रालय आदर्श – प्रभाव: सब मनुष्यों

1 कुरिन्थियों 9:22 मैं निर्बलों के लिये निर्बल सा बना, कि निर्बलों को खींच लाऊं, मैं सब मनुष्यों के लिये सब कुछ बना हूं, कि किसी न किसी रीति से कई एक का उद्धार कराऊं।

धन

Paul deals with ministry support, fund raising and giving

धन- मंत्रालय सहायता

अन्य मंत्रालयों के लिए

2 कुरिन्थियों 9:6 परन्तु बात तो यह है वह थोड़ा काटेगा भी; और जो बहुत बोता है, वह बहुत काटेगा। 
7 हर एक जन जैसा मन में ठाने वैसा ही दान करे न कुढ़ कुढ़ के, और न दबाव से, क्योंकि परमेश्वर हर्ष से देने वाले से प्रेम रखता है। 8 और परमेश्वर सब प्रकार का अनुग्रह तुम्हें बहुतायत से दे सकता है जिस से हर बात में और हर समय, सब कुछ, जो तुम्हें आवश्यक हो, तुम्हारे पास रहे, और हर एक भले काम के लिये तुम्हारे पास बहुत कुछ हो। 

धन -मंत्रालय सहायता

पौलुस उनसे समर्थन लेने की कोशिश नहीं कर रहा था, जो वर्तमान में सेवा कर रहे थे ।

2 कुरिन्थियों 11:7 क्या इस में मैं ने कुछ पाप किया; कि मैं ने तुम्हें परमेश्वर का सुसमाचार सेंत मेंत सुनाया; और अपने आप को नीचा किया, कि तुम ऊंचे हो जाओ? 8 मैं ने और कलीसियाओं को लूटा अर्थात मैं ने उन से मजदूरी ली, ताकि तुम्हारी सेवा करूं। 9 ओर जब तुम्हारे साथ था, और मुझे घटी हुई, तो मैं ने किसी पर भार नहीं दिया, क्योंकि भाइयों ने, मकिदुनिया से आकर मेरी घटी को पूरा किया: और मैं ने हर बात में अपने आप को तुम पर भार होने से रोका, और रोके रहूंगा।

धन - मंत्रालय सहायता

जब आवश्यक हो, उसने आवश्यकतानुसार खर्चों के लिए काम किया

2 थिस्सलुनीकियों 3:8 और किसी की रोटी सेंत में न खाई; पर परिश्रम और कष्ट से रात दिन काम धन्धा करते थे, कि तुम में से किसी पर भार न हो।

चर्चा

  • हम मंत्रालय में किस हमले का सामना करते हैं, हम कैसे जवाब देते हैं?

  • हम पौलुस के मंत्रालय के आदर्श से क्या सीखते हैं? किस तरह से आप “मिट्टी के पात्र” की तरह परमेश्वर का खजाना आप से चमकता है? हम अधिक प्रभावी कैसे हो सकते हैं?

  • देने और धन जुटाने के बारे में हम क्या सीखते हैं? हम कैसे सुधार सकते हैं?

 

परमेश्वर की शक्ति हमारी कमजोरी में परिपूर्ण है

Related Posts

7 रोमियो – जीवन परिवर्तन यात्रा

पौलुस इस पत्र में वैश्विक चर्च के लिए शिक्षाओं की नींव रखता है पाप के गुलाम कृपा से बचे पूर्णता के लिए बलिदान वरदान साझा करें चर्चा अक्सर सवाल परिचय - जीवन परिवर्तन यात्रा रोमियो 12:1 इसलिये हे भाइयों, मैं तुम से परमेश्वर की दया स्मरण दिला कर बिनती करता हूं, कि अपने...

8 1 कुरिन्थियों – स्वर्ग का सोना

लोग इसके लिए लड़ते हैं। इसके लिए जिएं। इसके लिए मर जाओ। सोने की तलाश कभी बंद नहीं होती। फिर भी कितने लोग इसका आनंद लेते हैं? कितनी देर से? पौलुस ने बताया कि कैसे निवेश किया जाए और शाश्वत खजाने में निवेश किया जाए परिचय निवेशक ध्यान खींचना व्यक्ति विनाशकारी मनुष्य की...

9 2 कुरिन्थियों – मिट्टी के पात्र

पौलुस परमेश्वर के आगामी अनुग्रह के साथ अपने संघर्ष और कमजोरी को साझा करता है।2 कुरिन्थियों 4:7 परन्तु हमारे पास यह धन मिट्ठी के बरतनों में रखा है, कि यह असीम सामर्थ हमारी ओर से नहीं, वरन परमेश्वर ही की ओर से ठहरे। परिचय दूत का बुरा बोलना शक्तिशाली संदेश मंत्रालय आदर्श...

10 गलतियों – अब मैं नहीं

हम इसे सुनते हैं, हम इसे जानते हैं, हम इसे गाते हैं, हम इसे कहते हैं। लेकिन क्या हम वास्तव में इसे जीते हैं? जिस क्षण हम अपने पुराने स्वभाव को दफन कर देते हैं, वह फिर से उभर आता है। पौलुस हमें याद दिलाता है कि हमारा नया जीवन क्या है। गलतियों 2:20 मैं मसीह के साथ क्रूस...

11 इफिसियों – सीमाएं आगे बढ़ने

उत्पीड़न के बीच इफिसियों को फलदायी जीवन बनाए रखना पड़ा। ईश्वर हमें बेहतर सफल होने के लिए प्रेरित कर रहा है।परिचय महान भाग्य उत्तम संगति असीम क्षमता ◦दृढ़ता से खड़े हो जाओ ◦निडरता से बोला ◦बिना रुके प्रार्थना करो चर्चाइफिसियों 3:19 तुम परमेश्वर की सारी भरपूरी तक...

12 फिलिप्पियों – मसीह का मन

पौलुस, फिलीपिंसियों को प्रोत्साहित करता है और हमें "मसीह यीशु के समान मानसिकता रखता है" के लिए मार्गदर्शन करता है। एक मन जो विनम्र, सामंजस्यपूर्ण, हर्षित, शांतिपूर्ण, आदि है।   सारांश परिचय मसीह का मन ◦विनम्र ◦ध्यान केंद्रित ◦संगत ◦आनंदपूर्ण ◦शांतिपूर्ण चर्चा परिचय...

13 कुलुस्सियों – मसीह में पूर्ण सिद्ध

परमेश्वर चाहता है कि हम आध्यात्मिक शिशुओं से पूर्ण परिपक्वता में विकसित हों। सही सिद्धांत, मजबूत नींव, अच्छा नेतृत्व परिपक्वता के प्रमुख गुण हैं।   कुलुस्सियों 1:28 जिस का प्रचार करके हम हर एक मनुष्य को जता देते हैं और सारे ज्ञान से हर एक मनुष्य को सिखाते हैं, कि हम...

14 1 थिस्सलुनीकियों – झरना आशा

थिस्सलुनीकियों के लिए पौलुस का संदेश और मॉडल गंभीर विरोध के बावजूद मकिदुनिया, अखया और अन्य स्थानों में विश्वासियों के माध्यम से फैलता है। पृष्ठभूमि सही उदाहरण: 1 थिस्सलुनीकियों 1-2:7 कोमल रिश्ते: 1 थिस्सलुनीकियों 2:8-3 बदालना आशा: 1 थिस्सलुनीकियों  4 जीवन पर सलाह: 1...

15 2 थिस्सलुनीकियों – आश्वस्त आशा

अंत समय के संकेत क्या हैं? जबकि दुष्ट दुनिया की सभी अच्छाईयों को चट कर रहे हैं, मसीह के राजसी आगमन और सबसे शक्तिशाली अनिष्ट शक्तियों पर विजय का वर्णन किया गया है। 2 थिस्सलुनीकियों 2:16 हमारा प्रभु यीशु मसीह आप ही, और हमारा पिता परमेश्वर जिस ने हम से प्रेम रखा, और...

16 1 तीमुथियुस – लड़ने योग्य

पौलुस तीमुथियुस से कहता है कि वह अपने और चर्च के भीतर आध्यात्मिक अनुशासन बनाए रखे और “फिट” रहे। आध्यात्मिक योग्यता: शुद्ध विवेक आध्यात्मिक दुर्बलता: बदनाम किया हुआ विवेक जहाज डूब गया विश्वास: कठोर विवेक महिलाओं की भूमिका पर पूछे जाने वाले प्रश्न 1 तीमुथियुस 1:18 अच्छी...

17 2 तीमुथियुस – निडर सच्चाई

यह शायद पौलुस का अंतिम पत्र है क्योंकि वह शहादत की आशा करता है। वफादार कुछ को छोड़कर ठंडा और सुनसान, वह अभी भी विजयी है। वह वफादार नेताओं को जिम्मेदारी सौंपता है। 2 तीमुथियुस 4:7 मैं अच्छी कुश्ती लड़ चुका हूं मैं ने अपनी दौड़ पूरी कर ली है, मैं ने विश्वास की रखवाली की...

18 तीतुस – दोहरा पकड़

पौलुस तीतुस को एक दोहरी पकड़ पाने के लिए प्रोत्साहित करता है - खुद पर और संदेश पर एक अच्छी पकड़। सारांश उद्देश्य परिचय शुभकामना जिम्मेदार जगाना प्रतिक्रियाशील को सुधारो विद्रोहियों को अस्वीकार करें विचार-विमर्श उद्देश्य विश्वास और धार्मिकता के बीच संबंध को समझने}चर्च...

19 फिलेमोन – अवतार

सबसे छोटे अक्षरों में से एक, यह सबसे शक्तिशाली में से एक बना हुआ है।  गहरी समझ से यह एक महान नेता के विकास पर  समझ प्रदान करता है।परिचय पौलुस की भूमिका: ◦छुपा मूल्य की धारणा ◦दिखाई मूल्य में तैयारी अपने कर्ज का क़ीमत देना और अतीत को काटना करना ◦प्रोत्साहन है कि चर्च...